रविवार, 15 नवंबर 2009

भाजपा में सुधार

आजकल भाजपा में हर कोई सुधार की बात कर रहा है ,
ठीक है होना भी चाहिए .पर करेगा कौन भाजपा का इलाज ,कांग्रेस का कहना है की भगवत तो जानवरों के डाक्टर है ।
बाकि सभी नेता छोटे लेवल के है । उनके बस में नही है इतना बड़ी बिमारी का इलाज करना .तभी तो संघ को बीच बचाव के लिए आगे आना पड़ा है ।
मेरी राय है
१.किसी दूसरी पार्टी से युवा नेताओ को पार्टी में लाया जाए
२. भाजपा के लिए किसी दूसरी पार्टी को ठेका दे देना चाहिए। [जिसे की आउट सोर्सिंग कहते हैं ]
३, किसी मैनेजमेंट कंपनी को इसके सुधार के लिए बुलाया जावे ।इस काम के लिए टी सी एस जैसी कंपनी ही बुलाई जानी चाहिए , बदले में भावी मंत्रिमंडल में मंत्री का पद ऑफर किया जा सकता है
४,पार्टी के सभी पदों की सार्वजानिक नीलामी की जावे । जो ज्यादा पैसा दे उसे पार्टी सोंप दी जाए , टिकट भी तो बेचे जाते है , ऐसे इल्जाम लगते रहते है , ख़ुद पार्टी नेताओं द्वारा ही ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें